बंद फोन पे कॉल की उम्मीद रखते हैं

" बंद फोन पे कॉल की उम्मीद रखते हैं ये रिश्ते भी हमसे जाने कैसी प्रीत रखते हैं ।दूर जाते जाते भी दूरियां कम हुई जाती है,हम कहां रिश्तों में सड़कों की भीड़ रखते हैं ।

Continue Reading बंद फोन पे कॉल की उम्मीद रखते हैं
” कितनों के साथ तुमने मुझे सोते देखा है । “
" कितनों के साथ तुमने मुझे सोते देखा है । "

” कितनों के साथ तुमने मुझे सोते देखा है । “

" क्या लगता है तू मेरा ,बाप है , भाई है , खसम है या मेरा दलाल है । किस रिश्ते से तू मेरा character certificate issue करता फिर रहा है । मेरे बाप भाई को भी नहीं पता होगा मैं कितनों के साथ सोई हूं , फिर तुझे कैसे पता , साले, दलाल है क्या तू मेरा , मेरी चादर से रेजगरियां बटोरता फिरता है तू , बता सबको कमीन तुझे कैसे पता । और तू जो कहता फिरता है की मेरा इस ऑफिस में कईयों के साथ चक्कर था , तो भड़वे तेरा क्यूं नहीं था , तेरी टांगों के बीच में मांस का वो लोथड़ा नहीं है जो तुम सबको मर्द बनाता है । " ऑफिस के सारे स्टाफ को जैसे सांप सूंघ गया था । read more in blog

Continue Reading ” कितनों के साथ तुमने मुझे सोते देखा है । “