आज कुछ सड़कों ने करवटें ली हैं

इन पन्नों में जो भी कुछ हैं उन्हें कविता तो नहीं कहा जा सकता, बस कुछ पल हैं जो सुस्ताने को ठहर गए हैं।

Continue Reading आज कुछ सड़कों ने करवटें ली हैं